Skip to content Skip to navigation

GST के तहत टैक्स क्रेडिट के त्रुटिपूर्ण दावे को ठीक करने के लिए फॉर्म 27 दिसंबर तक भरने का निर्देश

News Wing

New Delhi, 13 December: वित्त मंत्रालय ने आज माल एवं सेवा कर (जीएसटी) के तहत बदलाव की अवधि के दौरान के लिए गलत कर क्रेडिट दावा करने वाले करदाताओं को 27 दिसंबर तक संशोधित फॉर्म ट्रान-1 जमा कराने को कहा है. मंत्रालय ने चेताया है कि ऐसा नहीं करने वाले करदाताओं पर प्रवर्तन कार्रवाई की जाएगी.

जीएसटी के तहत भरोसा आधारित इनपुट कर क्रेडिट की व्यवस्था की गई है

बयान में कहा गया है कि जीएसटी के तहत भरोसा आधारित इनपुट कर क्रेडिट की व्यवस्था की गई है. इसमें कहा गया है कि ऐसा देखने में आया है कि कुछ करदाताओं ने बदलाव के दौरान के लिए अत्यधिक ऊंचे सीजीएसटी के क्रेडिट का दावा किया है. यह न तो उद्योग के इनपुट कर क्रेडिट से मेल खाता है और न ही करदाता के पूर्व में किए गए कर क्रेडिट के दावों से मिलता है.

यह भी पढ़ें: डेबिट कार्ड लेनदेन में कारोबारी शुल्क बढ़ाने के फैसले से खुदरा विक्रेता नाराज

27 दिसंबर तक संशोधति फॉर्म ट्रान एक भरने का मौका

मंत्रालय ने कहा कि इसमें से कुछ मामलों में स्पष्टीकरण मांगा जा सकता है. कुछ मामले गलती की वजह से हो सकते हैं. बयान में कहा गया है कि इस तरह का व्यवहार करदाता और कर प्रशासन के बीच भरोसे को तोड़ने वाला है. ऐसे करदाताओं के पास 27 दिसंबर तक संशोधति फॉर्म ट्रान एक भरने का मौका है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Lead
Share

Add new comment

loading...