धरती से डेढ़ गुना चौड़ा है बृहस्पति का ग्रेट रेड स्पॉट

News Wing

Washington, 13 December: नासा के जूनो अंतरिक्षयान द्वारा संकलित डेटा के मुताबिक बृहस्पति ग्रह का ग्रेट रेड स्पॉट धरती से लगभग डेढ़ गुणा चौड़ा है और यह इस ग्रह के वायुमंडल में करीब 300 किलोमीटर तक प्रवेश करता है.

ग्रेड रेड स्पॉट पर लगातार उच्च दबाव बना रहता है

ग्रेड रेड स्पॉट एक ऐसा क्षेत्र है, जहां लगातार उच्च दबाव बना रहता है जो बृहस्पति पर आंधी पैदा करता है. यह सौरमंडल की सबसे प्रसिद्ध आंधी है. इसकी गति धरती पर आने वाली किसी भी आंधी से तेज है. नासा अनुसंधानकर्ताओं ने कहा है कि मिशन से हुए अन्य खुलासों में पता चलता है कि बृहस्पति ग्रह में दो ऐसे विकिरण क्षेत्र हैं ,जिनका इससे पहले पता नहीं था.

यह भी पढ़ें: अमेरिकियों को चांद और मंगल पर भेजने की तैयारी

माइक्रोवेव रेडियोमीटर वैज्ञानिक उपकरण का किया जा रहा है इस्तेमाल 

जूनो के प्रधान अनुसंधानकर्ता स्कॉट बोल्टन ने कहा, “बृहस्पति के ग्रेट रेड स्पॉट के बारे में सबसे मूल सवाल यह है कि उसकी जड़ें कितनी गहरी हैं.” बोल्टन ने कहा, “जूनो के डेटा दर्शाते हैं कि हमारे सौरमंडल का सबसे प्रचलित आंधी क्षेत्र धरती से डेढ़ गुना ज्यादा चौड़ा है और इसकी जड़ें ग्रह के वायुमंडल के 300 किलोमीटर अंदर तक हैं.” इस खुलासे के लिए जूनो के माइक्रोवेव रेडियोमीटर वैज्ञानिक उपकरण का इस्तेमाल किया गया.

 

 

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Add new comment